Solar Energy क्या है | What Is Solar Energy in Hindi - Tech Talk Hindi

Latest

गुरुवार, 29 अक्तूबर 2020

Solar Energy क्या है | What Is Solar Energy in Hindi

सौर ऊर्जा क्या है, सोलर सेल व सोलर पैनल का उपयोग कैसे किया जाता है ? (information On Solar Energy in Hindi) 

What is Solar Energy In Hindi
Solar energy in Hindi  


Solar Energy जिसे हम हिंदी में सौर ऊर्जा कहते है जो की सूर्य से प्राप्त की जाने वाली ऊर्जा है जिसे सीधा थर्मल या विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है। सौर ऊर्जा सबसे स्वच्छ और सबसे प्रचर मात्रा में उपलब्ध अक्षय ऊर्जा का स्रोत है, अगर बात करे इसके उपलबधता की तो चीन और अमेरिका के पास दुनिया के सबसे समृद्ध सौर संसाधन हैं। बात करे भारत की भारत में भी बड़े पैमाने में सौर ऊर्जा का उत्पादन और उपयोग  किया जाता है।


बात करे इसके उत्पादन की तो भारत में हर साल ३५ हज़ार मेगा वॉट  से ज्यादा का उत्पादन किया जाता है. यही नहीं सोलर एनर्जी को भारत की सबसे जलद  गति से विकसित होने वाली इंडस्ट्री भी कहा जाता है।


 सौर ऊर्जा (Solar Energy) विभिन्न प्रकार के उपयोगों के लिए इस ऊर्जा का उपयोग कर सकती है, जिसमें बिजली पैदा करना, प्रकाश या आरामदायक आंतरिक वातावरण प्रदान करना, और घरेलू, व्यावसायिक या औद्योगिक उपयोग के लिए पानी गर्म करना शामिल है। इस तरह के बहोत सारे काम हम सोलर एनर्जी के मदत से कर सकते है और यहाँ ऊर्जा बाकि उर्जाओ से काफी किफायती भी मानी जाती है। 


तो चलिए दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है कीआखिर  Solar Energy है क्या | What is solar energy in Hindi और और कैसे हम Solar Enrgy का इस्तेमाल करके बिजली बचा सकते है और कैसे हम Solar Enrgy पैदा करते, तो चलिए दोस्तों अपने ज्ञान को बढ़ाते है। 


सौर ऊर्जा तकनीक (Solar Energy Technology in Hindi)


 सोलर एनर्जी (Solar Energy) को हम कुल तीन मार्ग से पैदा करते है जिसमे फोटोवोल्टिक्स तकनीक   (Photovoltaics technology) सोलर हीटिंग एंड कूलिंग (Solar Heating  And  Cooling) और  तीसरा आता है कंसन्ट्रेटिंग सोलर पवार (Concentrating Solar  Power) तकनीक। इन तीनो तरह से आज दुनिया में अलग अलग जगह संसाधनों के उपलभ्धता के हिसाब से सोलर एनर्जी पैदा की जाती है।  इन तीनो तकनीकों के बारे में हम आगे सविस्तार जानेगे। 


फोटोवोल्टिक्स तकनीक (Photovoltaics-Solar Energy Technology in Hindi)


फोटोवोल्टिक (Photovolatics) यह एक उपकरण है जो की एक इलेक्ट्रॉनिक प्रक्रिया के माध्यम से सीधे सूर्य के प्रकाश से बिजली उत्पन्न करता  हैं। इसमें सबसे ज्यादा काम सेमीकंडक्टर का होता है जो की सूर्य  से निकलने वाली किरणों को डायरेक्ट इलेक्ट्रिक एनर्जी में कन्वर्ट करता है।


इस सपूर्ण कार्य को हम फोटोवोल्टिक्स इफेक्ट (Photovolatics Effect) कहते है। इस तरह से ऊर्जा निर्माण करने के लिए हमें आम तौर पर कुछ सामग्रियों की ज़रूरत पढ़ती है जैसे की सोलर पैनल,सोलर सेल और सेमीकंडक्टर का उपयोग किया जाता है। आपने कही बार देखा होगा की हमारे आस पास खुले मैदान में घरो के छतो पे ऐसे बहोत सरे खुली जगह सोलर पैनल देखने मिलते है  और यही सोलर पैनल हमें सूर्य से सीधा बिजली देते है।  


सोलर हीटिंग और सोलर कूलिंग तकनीक (Solar Heating System and Solar Cooling system)


Solar Heating System

सौर हीटिंग अक्षय ऊर्जा प्रणाली (Solar Energy System) को संदर्भित करता है। जो की बिजली का उत्पादन करने के लिए सूर्य की ऊर्जा का उपयोग करने के बजाय गर्मी के रूप में सूर्य से ऊर्जा एकत्र करता है, जैसा कि सौर फोटोवोल्टिक्स के मामले अभी हमने पढ़ा है । 

सौर हीटिंग सिस्टम (Solar Heating System) का उपयोग स्पेस हीटिंग , वाणिज्यिक या औद्योगिक सुविधाओं में उपयोग किए जाने वाले स्थान पे हीटिंग और पानी हीटिंग प्रदान करने के लिए किया जा सकता है। सौर जल हीटिंग (Solar Water Heating) प्रणालियों के मामले में, गर्म पानी का उपयोग बारिश, रसोई और बाथरूम नल, स्विमिंग पूल, वाशिंग मशीन, जकूज़ी और अन्य उपकरणों में किया जाता है  जहा पर गर्म पानी की आवश्यकता होती है।  


Solar water heater system In Hindi

Solar-Water-Heating-System


Solar Cooling system


वही बात करे सोलर कूलिंग प्रणाली की तो सोलर कूलिंग (Solar Cooling system) एक ऐसी प्रणाली है जो सूर्य से गर्मी को ठंडा करने में परिवर्तित करती है जिसका उपयोग रेफ्रिजरेटर  और एयर कंडीशनिंग के लिए किया जाता  है। 

यह यह एक सौर शीतलन प्रणाली  है जो जोकि की सौर ऊर्जा एकत्र करने के लिए किया जाता है और इसका उपयोग थर्मल संचालित शीतलन प्रक्रिया में करती है जिसका उपयोग इमारत के लिए ठंडा पानी या कंडीशनिंग हवा पैदा करने जैसे उद्देश्यों के लिए तापमान को कम करने और नियंत्रित करने के लिए किया जाता है। इस तरह के कही काम हमें इस तकनीक में देखने मिलते है सोलर एनर्जी (Solar Energy) का इस तरह से भारत और दुनिया भर में दिन पे दिन बढ़ता जा रहा है। 

कंसन्ट्रेटिंग सोलर पवार तकनीक  (Concentrating Solar  Power in hindi) 


कंसन्ट्रेटिंग सोलर पवार (Concentrating Solar  Power) सोलर एनर्जी  (Solar Energy) के इस तकनीक में सूर्य के किरणों को आईने के जरिये  सूर्य किरण को एक ही बिंदु  में परवर्तित किया जाता है जोकि इन एक हि बिंदु पर पड़ने वाले किरणों को एक ही जगह कलेक्ट करके उनसे गर्मी पैदा करता है। 


इस थर्मल एनर्जी (Thermal Energy) का उपयोग बिजली उत्पादन के लिए किया जाता है।  सोलर एनर्जी (Solar Energy) के इस तकनीक का इस्तमाल ज्यादा तर खुली जगह बड़े मैदानों में बहोत सरे शिशो से किया जाता है


सोलर एनर्जी के होने वाले फायदे (Advantages of Solar Energy in Hindi)


  • बात करे इसके होने वाले सबसे बड़े फायदे की तो सोलर एनर्जी (Solar Energy) यह जमे पूरी तरह से सूरज से मिलती है और जबतक हमारी पृथ्वी का विनाश होता नहीं तबतक हमें सूरज की  किरणे हमें मिलती रहेंगी और तब तक हम सोलर एनर्जी (Solar  Energy) का उत्पादन  करते रहेंगे।
  • इसक दूसरा फायदा हमें आने वाले घर के बिल पर पड़ने वाला है। भविष्य में  सोलर एनर्जी (Solar Energy) से हम घर के बहोत से उपकरण चला पाएंगे और इससे बिजली की खपत भी बहोत काम होने वाली है। इसलिए हमें बिजली के बिल की बहोत काम रकम चुकानी पड़ेंगी। 
  • इसके तीसरे फायदे के बात करे तो सोलर एनर्जी (Solar Energy) के उत्पादन के लिए कोई बड़ी बड़ी मशीनों की ज़रूरत नहीं पढ़ती बल्कि सोलर पैनल की मदत से हम हमारे घर में भी इसका उत्पादन करके सोलर एनर्जी (Solar Energy) उपयोग कर सकते है। 
  • बात करे इसके कीमत की तो इसके उत्पादन के लिए हमें फोटोवोल्टिक तकनीक की ज़रूरत पढ़ती है और आज कल बहोत से उद्योग ,व्यापर ,और घरो के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है एक विशेष क्षमता के हिसाब से हमें इसके अलग अलग पैनल बाजार में मिलते है जिसकी कीमत अलग अलग होती है।  और एक ही प्रणली से हम कही बार सोलर एनर्जी (Solar Energy) का उत्पादन कर सकते है। 
  • सोलर एनर्जी (Solar Energy) हमें पूरी तरह से सूरज से मिलती है इसके लिए ऐसा कोई बड़ा प्लांट बनाना नहीं पड़ता इसलिए निर्मत होने वाली हानिकारक रडिएशन ( Harm Radiation) नहीं बनती साथ ही साथ इससे पेड़ो और जानवरो और पक्षियों को कोभी कोई नुकसान नहीं होता। इन्वोरमेंट के हिसाब से सोलर एनर्जी (Solar Energy) का उपयोग बहोत लाभदायह है। (Solar Energy in Hindi )


सोलर एनर्जी और भारत (Solar Power in India in 2021)


                    भारत पहले से नवीकरणीय ऊर्जा पर ज्यादा ज़ोर देते आया है सौर ऊर्जा  (Solar Energy) के साथ  वायु ऊर्जा,पवनबिजली ऊर्जा,ज्वारीय ऊर्जा,भूतापीय ऊर्जा,बायोमास ऊर्जा इस तरह की बहोत सारि उर्जाओ का उत्पादन आज हमारे देश में किया जाता है। 


मगर बात करे सोलर एनर्जी (Solar Energy) की भारत में अवस्ता की तो भारत यह एक उष्ण कटिबंधिया  देश माना जाता है याने की भारत में  साल में सबसे ज्यादा गर्मी रहती है इसकी वजह से सोलर एनर्जी (Solar Energy) के उत्पादन में भारत ने बहोत से दशो को पीछे छोड़ा है। 

   

Solar Energy in India

Solar Energy in India 



        बात करे सोलर एनर्जी के भारत में उत्पादन की तो भारत का अबतक का सबसे बड़ा सोलर एनर्जी (Solar Energy) प्रोजेक्ट थार मरुस्थल (राजस्थान) में उभरा गया है।  ये प्रोजेक्ट ७०० से २१०० मेगा वॉट सोलर एनर्जी (Solar Energy) उत्पन्न करने में सक्षम है।  

केंद्र सरकार ने  'जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय सौर ऊर्जा योजना ' के तहत  साल २०२२ तक २०,००० मेगा वॉट (20000 MW) तक ऊर्जा उत्पादन करने का लक्ष निश्चित किया है। इसके साथ भारत सरकार ने  साल २०२२ तक  १७५ गीगा वॉट (175 GW) नवीकरणीय ऊर्जा (Renewable energy) उत्पादन करने का लक्ष बनाया है। पिछले कुछ सालो में भारत में सोलर एनर्जी के उत्पादन क्षमता  की बढ़ रही है २०१९ में २८,१८१ मेगा वॉट तो २०२० मे ३४,६२७ मेगा वॉट तक  के उत्पादन क्षमता को गाठा है। 

२०२० के लक्ष को घटने के लिए भारत सरकार ने लद्दाक को चुना है और वह बड़े पैमाने में सोलर एनर्जी (Solar Energy) का उत्पादन किया जाने वाला है। 

सोलर एनर्जी के दस मुख्या उपयोग (Ten Uses of Solar Energy in Hindi in 2021)

  • सबसे पहला इस्तेमाल आता है  पानी को गर्म करना हमें ऐसे बहोत से कामो में गर्म पानी की ज़रूरत होती है जैसे की नहाने के लिए लॉन्ड्री में , स्वीमिंग पूल में पानी गर्म करने के लिए और औद्योगिक क्षत्र में भी गर्म पानी की बहोत ज़रूरत होती है। और सोलर हीटिंग प्रणाली की वजह से हमें आसानी से सोलर एनर्जी (Solar  Energy) के जरिये गर्म पानी  बना सकते है। 

  • हमारे घर में ऐसी बहोत सारी  इलेक्टॉनिक उपकरण होते है जो बैटरी पर चलते है जैसे की लाइट, रेडिओस , स्मार्टफोन बैटरी इस तरह के कही बैटरी हम सोलर एनर्जी (सोलर एनर्जी) से चार्ज कर सकते है. इसका सबसे ज्यादा फायदा ग्रामीण भाग में होता है जहा बिजली पोहचती नहीं। 

  • इसी तरह सोलर हाउसिंग हीटिंग सिस्टम की मदत से हम सोलर एनर्जी (Solar Energy) से घर को गर्म रखते है इसका सबसे ज्यादा फायदा उन लोगो को होता है जो बर्फीले जगह पर घर बनाकर रहते है। 

  • इसी तरह से कूलिंग सिस्टम से सोलर एनर्जी (Solar  Energy) के मदत से हम हमारे घर को गर्मियों में ठंडा भी रख सकते है। आजा कल हमारे घरो में AC या Cooler का बड़े पैमाने में इस्तेमाल किया जाता है मगर उसकी कीमत भी हमें बहोत चुकानी पड़ती है अगर सोलर एनर्जी (Solar Energy) का उपयोग हम इस तरह करे तो बिजली की बहोत ज्यादा बचत हो सकती है। 

  • हम अक्सर देखते है की हाईवे रोड पर हमें रात में लाइट न होने के कारन से बहोत दिक्कत उठानी पड़ती है मगर आज कल सोलर एनर्जी (Solar Energ) पे चलने वाले स्ट्रीट लाइट का बहोत उपयोग हो रहा है इसमें लाइट की बैटरी दिनभर चार्ज होती है और रात में रौशनी देती है। 

  • ऊपर बताये हुए  उपयोग  के अलावा अन्य उद्देश्यों के लिए भी छोटे-बड़े  पैमाने पर सौर ऊर्जा का उपयोग किया जाता है।उदाहरण के लिए, कुछ देशों में, सौर ऊर्जा का उपयोग वाष्पीकरण द्वारा समुद्री जल से नमक का उत्पादन करने के लिए किया जाता है।

  • आज कल सौर ओवन ,सौर कूकर  भी बहोत लोकप्रिय हो रहे है।  घरेलु कामो में भी हम सोलर एनर्जी (Solar Energy) पर चलने वाले उपकरण का इस्तेमाल कर रहे है। 

  • पहड़ो वाले  इलाको में हमें बिजली देखने नहीं मिलती वह telecommunication network को चलाने के लिए बिजली निर्माण करने के लिए पेट्रोल और डीज़ल का इस्तेमाल किया जाता है।  मगर सौर ऊर्जा के वजह से हम आज बड़े पैमाने में बिजली निर्माण कर सकते है। आजकल telecomunication में  सौर ऊर्जा (Solar Energy) का बड़े पैमाने उपयोग  में किया जा रहा है। 
  • आने वाले सालो में हमें इलेक्ट्रिक कार्स और बाइक भी दखने मिलेंगे उनमें भी सोलर एनर्जी का (Solar Energy) इस्तेमला किया जाएंगे।  

  • सोलर पंप  में भी आजकल सोलर एनर्जी (solar energy) का इस्तेमाल किया जाता है। 
  •  


देश द्वारा सबसे ज्यादा सौर ऊर्जा की क्षमता 2020-2021 


देश सौर क्षमता
China 240 GW
United State 97.2 GW
Japan 71.7 GW
Germany 53.8 GW
India 39 GW

    समापन (Conclusion)


    आज दुनिया में ऐसी बहोत सरे ऊर्जा के स्त्रोत है जो की मर्यादित है और उन सभी का  सही तरह से इस्तेमाल करना हमारा कर्त्यव है ताकि इन सभी स्त्रोत का इस्तेमाल हमारी आने वाली पीढ़ी  भी कर सके। इसके लिए  नवीकरणीय ऊर्जा (Renewable energy) पे हमें ज्यादा ध्यान देना होगा।  

    आज प्रदुषण की वजह से हमारे इन्वोरमेंट के काफी बदल दखने मिल रहा है इसका काफी ज्यादा असर इंसानो औ जानवरो पर दिखने लगा है ऐसे में  काम प्रदुषण करने वाले स्र्तो का इस्तेमाल हमें करने की ज़रूरत है  ऐसे में सौर ऊर्जा हमारे लिए वरदान से काम नहीं। इसलिए भविष्य  में सौर ऊर्जा (Solar Energy in Hindi) के उत्पादन और विकास पर हमें बहोत ज्यादा  ध्यान दने की ज़रूरत है धन्यवाद।  

मैं आशा करता हूँ की आपको Solar Enrgy क्या है | What is Solar energy in Hindi और किस तरह यह हमारे भविष्य के लिए एक स्थिर  ऊर्जा साधन है। सौर ऊर्जा से सम्भदित आपका कोई सवाल या सुझाव होतो कम्मेंट करके ज़रूर बताना शुक्रिया, जय हिन्द 

Also, Read 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

If you have any thought, Please let me know